उच्च शिक्षा विभाग

मध्यप्रदेश शासन

एंटी रैगिंग हेल्पलाइन नं : 1800-180-5522

आवेदक की पात्रता

   लाभ/राशि

आवेदन एवं स्‍वीकृति की प्रक्रिया

  • आवेदक/अभ्यर्थी म.प्र. का मूल निवासी हो एवं म.प्र. के अनुसूचित जाति वर्ग का हो।
  • स्नातक स्तर की परीक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हो।
  • अभ्यर्थी के परिवार की कुल वार्षिक आय रू. 5.00 लाख से अधिक ना हो ।
  • यदि अभ्यर्थी बिना योजना का लाभ लिये संघ लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण कर लेता है एवं योजना में निर्धारित आय सीमा के अंतर्गत आता है तो ऐसे अभ्यर्थियों को भी योजना में निहित प्रावधान अनुसार पात्रता होगी।
  • यदि किसी अभ्यर्थी ने संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण कर साक्षात्कार में सम्मिलित होने की पात्रता प्राप्त की है तथा वह साक्षात्कार की तैयारी हेतु नोडल विभाग द्वारा निर्धारित पैनल की किसी कोचिंग संस्था में प्रवेश लेना चाहता है अथवा प्रवेश लिया गया है तो उसे साक्षात्कार हेतु कोचिंग की सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी ।

प्रारम्भिक परीक्षा एवं मुख्य परीक्षा के लिये-

  • दोनों परीक्षाओं के लिये सम्मिलित रूप से कुल 12 माह का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • शिष्यवृत्ति प्रतिमाह रू.12500/-
  • कोचिंग शुल्क हेतु अधिकतम व्यय -
  • हिन्दी माध्यम-रू.1.25 लाख
  • अंग्रेजी माध्यम-रू.1.50 लाख
  • पुस्तकों हेतु रू.15000/-

 

साक्षात्कार की तैयारी के लिये -

  • शिष्यवृत्ति रू.12500/- प्रतिमाह (एक माह हेतु)
  • कोचिंग शुल्क होने पर प्रतिमाह रूपये 20,000/- अधिकतम
  • स्नातक स्तर की परीक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण करने वाले आवेदकों से प्राप्त आवेदन के आधार पर निर्धारित लक्ष्य सीमा तक आवेदकों का चयन किया जाएगां ।
  • आवेदन नोडल विभाग के मुख्यालय में करना होगा।

 

  • अतिथि विद्वान हेतु लॉगइन
    Read More
  • ‘Action Plan for Governance Benchmarking activities 2019-2020’
    Read More
  • ऑनलाइन ई-लाइब्रेरी एवं ई-लैब उन्नयन ऑनलाइन सॉफ्टवेयर का लिंक
    Read More
  • एनुअल सिस्टम सिलेबस
    Read More
  • महाविद्यालय ऑनलाइन जानकारी अद्यतन करने हेतु लॉगइन
    Read More
  • ऑनलाइन फॉरेन टूर सॉफ्टवेयर की लिंक
    Read More
  • महाविद्यालय सम्बन्धी ऑनलाइन जानकारी एवं पदांकितों की ई-आर शीट
    Read More